अवैध शराब माफियाओं पर कसेगा शिकंजा बार्डर पर भी टीमों का होगा पहरा ।

0
84


न्यूज़ ऑफ इंडिया ( एजेंसी )



 लखनऊ:प्रदेश में अवैध मदिरा के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही किये जाने तथा निर्धारित राजस्व लक्ष्य की शत-प्रतिशत प्राप्ति सुनिश्चित किये जाने के दिये गये निर्देश के अनुपालन में अवैध शराब के निर्माण, तस्करी एवं बिक्री पर अंकुश लगाने हेतु दिनांक 21 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2022 तक प्रदेश स्तर पर विशेष प्रवर्तन अभियान चलाया जायेगा।
इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए अपर मुख्य सचिव आबकारी, संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि इस अभियान के दौरान जिलाधिकारी तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक के माध्यम से प्रशासन, पुलिस एवं आबकारी की संयुक्त टीमों का गठन करते हुए दबिश एवं चेकिंग कार्यवाही की जायेगी, जिसमें अवैध शराब के निर्माण एवं बिक्री के अड्डों पर दबिश दिये जाने के साथ-साथ राष्ट्रीय/राज्य राजमार्गों पर स्थित संदिग्ध ढाबों की भी जांच कराई जायेगी। अभियान के अन्तर्गत गठित संयुक्त टीमों द्वारा आबकारी दुकानों की भी सघन चेकिंग की जायेगी। संयुक्त आबकारी आयुक्त जोन तथा उप आबकारी आयुक्त प्रभार के द्वारा अवैध शराब के निर्माण, बिक्री तथा तस्करी के विरूद्ध चलाये जाने वाले विशेष प्रवर्तन अभियान की दैनिक समीक्षा की जायेगी।
अपर मुख्य सचिव ने बताया कि मुख्य मार्गों पर वाहनों की भी चेकिंग कराई जायेगी, जिससे कि अवैध मदिरा की तस्करी पर रोक लगाई जा सके। अवैध मदिरा के कार्य में संलिप्त माफियाओं पर आबकारी अधिनियम की धाराओं के साथ-साथ आई0पी0सी0 की सुसंगत धाराओं में भी एफ0आई0आर0 दर्ज कराते हुए कठोर कार्यवाही किये जाने के निर्देश जारी किये गये हैं।
इसी क्रम में आबकारी आयुक्त, सेंथिल पांडियन सी. द्वारा अवगत कराया गया कि अभियान के दौरान यदि किसी व्यक्ति को किसी स्थान पर अवैध मदिरा के निर्माण, बिक्री, तस्करी अथवा अवैध शराब से जुड़ी कोई सूचना प्राप्त होती है तो वह तत्काल आबकारी मुख्यालय, प्रयागराज में स्थापित 24ग्7 कार्यरत कन्ट्रोल रूम के टोल फ्री नम्बरों ‘‘14405‘‘ के साथ-साथ व्हाट्सऐप नं0 9454466019 पर भी सूचना दे सकते हैं। अभियान के अन्तर्गत दुकानों पर ओवर रेटिंग की क्रास चेकिंग कराई जायेगी तथा आवेर रेटिंग का प्रकरण पाये जाने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी।
आबकारी आयुक्त द्वारा यह भी बताया गया कि विशेष प्रवर्तन अभियान के दौरान अवैध शराब के निर्माण तथा बिक्री के अड्डों के विरूद्ध छापेमारी की कार्यवाही के साथ-साथ ईंट भट्ठों, बहुत दिनों से बन्द पड़ी फैक्ट्रियों और गोदामों, खण्डहर, इण्डस्ट्रियल एरिया में लम्बे समय से बन्द पड़े संदिग्ध गोदामों, कोल्ड स्टोरेज, आर0ओ0 वाटर प्लाण्ट, पेन्ट एण्ड थिनर की दुकानों, एफ0एल0-16/17 की दुकानों की सघनता से जांच किये जाने के निर्देश दिये गये हैं। अवैध शराब की तस्करी की रोकथाम के लिए एन.सी.आर. के जनपदों सहित हरियाणा, नेपाल तथा उत्तराखण्ड के सीमावर्ती क्षेत्रों में विशेष चौकसी बरतने के कड़े निर्देश दिये गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here