इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में लगायी गई इण्डिया एक्सपो-2022 प्रदर्शनी
का भारी संख्या में लोगों ने किया अवलोकन

0
61

लखनऊः इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग, एमएसएमई तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग एवं इण्डियन इण्डस्ट्रीज एसोशियेशन द्वारा अग्रणी आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश के लिए कृषि आधारित तीन दिवसीय (02 से 04 नवम्बर तक) एमएसएमई उद्यमी महासम्मेलन के आयोजन के तहत आज केन्द्रीय राज्यमंत्री अतिलघु, लघु, मध्यम उद्यम उद्योग मंत्रालय श्री भानुप्रताप सिंह वर्मा, उ0प्र0 के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उद्यान, कृषि विपणन, कृषि विदेश व्यापार एवं कृषि निर्यात दिनेश प्रताप सिंह ने इण्डिया फूड एक्सपो-2022 प्रदर्शनी का अवलोकन किया। प्रदर्शनी में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग स्थापित करने के लिए टेक्नोलॉजी एवं मशीनों की उपलब्धता, कृषि एवं खाद्य पदार्थों के लिए पैकेजिंग टेक्नोलॉजी एवं अवश्यकताओं विषयक खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों पर आधारित व एमएसएमई विषयक आकर्षक प्रदर्शनी लगायी गयी है, जिसमें विभिन्न खाद्य प्रसंस्करण से संबंधित मशीनों, उपकरणों, उत्कृष्ट उत्पादों एवं सेवाओं को प्रदर्शित किया गया है।
प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए केन्द्रीय राज्यमंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा ने कहा कि यह प्रदर्शनी किसानों व खाद्य प्रसंस्करण तथा एमएसएमई से जुड़े लोगों के लिए अत्यंत प्रेरक व उपयोगी सिद्ध होगी। राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दिनेश प्रताप सिंह कहा कि इस प्रदर्शनी से खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र को अपने विस्तार का नया फलक मिलेगा।
कृषि उत्पादन आयुक्त मनोज कुमार सिंह ने खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस प्रदर्शनी व कार्यक्रम के जरिए प्रदेश की अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी व रोजगार के नये अवसर भी प्राप्त होंगे। अपर मुख्य सचिव एमएसएमई श्री अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि इस आयोजन से एमएसएमई सेक्टर के तहत लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए नई-नई तकनीक व विधियों की जानकारी मिलेगी। इस अवसर पर एमएसएमई व खाद्य प्रसंस्करण से जुड़े विभिन्न विषय विशेषज्ञों व उद्यमियों ने भी अपने-अपने अनुभव साझा किये।
इण्डिया फूड एक्सपो में विभिन्न स्थानों से भारी संख्या में आये उद्यमियों ने भ्रमण कर प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए ज्ञानार्जन किया। इण्डिया फूड एक्सपो में आधुनिक तकनीकों को भी प्रदर्शित किया गया है, जिसमें कृषि में उपयोग किये जाने वाले ड्रोन को भी दर्शाया गया है और प्रदर्शनी में यह भी प्रदर्शित किया गया है कि ड्रोन का उपयोग उन्नत कृषि के लिए किस प्रकार किया जा सकता है।

न्यूज ऑफ इंडिया ( एजेंसी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here