काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की तर्ज पर कानपुर में बनेगा आनंदेश्वर मंदिर कॉरिडोर, तीन चरणों में होगा निर्माण

0
140

कानपुर।काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की तर्ज पर कानपुर में आनंदेश्वर मंदिर का भी कॉरिडोर बनेगा।कॉरिडोर बनने का निर्माण तीन चरणों में होगा। 15 अगस्त से वाहन पार्किंग और सड़क चौड़ीकरण का काम शुरू हो जाएगा।नगर निगम ने दोनों टेंडरों का काम दे दिया है।कॉरिडोर निर्माण के लिए स्मार्ट सिटी की मदद ली जा रही है।यह जानकारी भारतीय जनता पार्टी के सांसद सत्यदेव पचौरी ने दी।

काशी दर्शन के दौरान लिया संकल्प

सांसद ने बताया कि परमट स्थित आनंदेश्वर मन्दिर में रोजाना सैकड़ों भक्त दर्शन करने आते हैं।आवागमन के लिए सड़कों का चौड़ीकरण, पार्किंग स्थल, गंगा तट पर आरती स्थल बनाने की आवश्यकता महसूस की गई है।उन्होंने बताया कि मंडलायुक्त के साथ मंदिर स्थल का निरीक्षण भी किया।प्रस्तावित बाबा आनंदेश्वर मंदिर कॉरिडोर को लेकर सांसद पचौरी का कहना है कि काशी दर्शन ने दौरान यह संकल्प लिया था कि बाबा आनंदेश्वर मंदिर का भी कॉरिडोर होना चाहिए।इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी चर्चा हो चुकी है।कॉरिडोर बनने के बाद शहरवासियों को दर्शन करने में आसानी हो जायेगी।

पहले चरण में होंगे ये कार्य

पहले चरण में वीआईपी रोड पेट्रोल पंप से लेकर परमट पुलिस चौकी तक सुगम आवागमन के लिए मार्ग का चौड़ीकरण होगा।वाहन पार्किंग स्थल भी विकसित की जाएगी।अखाड़े के पास नाले पर स्लैब डालकर और रास्ते का कूड़ा साफ कर सड़क का चौड़ीकरण होगा।

दूसरे चरण में होंगे ये कार्य

दूसरे चरण में मंदिर के मेनगेट के बगल में गंगाघाट से होकर भक्तो को बाबा के धाम जाने के लिए वैकल्पिक मार्ग बनाया जाएगा। नमामि गंगे के द्वारा विशाल आरती स्थल बनाया जाएगा और सेल्फी प्वाइंट भी बनाया जाएगा।

तीसरे चरण में होगा ये काम

तीसरे चरण में मंदिर के मुख्य प्रवेश द्वार से बाबा के मठ तक प्रवेश मार्ग को चौड़ा किया जाएगा और साथ ही क्षेत्र में आने वाले अतिक्रमण को हटवाया जाएगा। इससे भक्तों को राहत मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here