केन, बेतवा व चंबल में जलस्तर कम होने से प्रयागराज में भी गंगा-यमुना पर भी दिखा फर्क

0
79
समाजसेवी शाहिद कमाल खान उर्फ बबलू द्वारा करैली के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र इस्लाम नगर व करेलाबाग में राहत सामग्री बांटी गई

यूपी के प्रयागराज जिला में बाढ़ से जल्द राहत मिलेगी। सोमवार की सुबह से जलस्तर में बढ़ोत्तरी में भारी कमी देखी गई वही मंगलवार रात्रि 8:00 बजे सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग बाढ़ खंड प्रयागराज द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार यमुना नदी खतरे के निशान से 0.786 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है । देखा जाए दोनों नदिया खतरे के निशान से लगभग एक सेंटीमीटर ऊपर बह रही हैं। गंगा-यमुना के बढ़ते जलस्तर से निचले इलाकों में बाढ़ का पानी घुसने से हाहाकार मचा है। हजारों परिवार बाढ़ राहत शिविर में रहने को मजबूर हो गया है। इसके अलावा 128 से अधिक गांवों में नाव चलने लगी है।

बाढ़ के पानी से तीन दर्जन से अधिक गांवों का संपर्क टूट गया है और 128 से अधिक गांव बाढ़ के चपेट से आ गए हैं। आंकड़ों के हिसाब से शहरी इलाकों में बाढ़ का पानी घुसने से लगभग साढ़े तीन लाख परिवार बाढ़ शिविर में ठिकाना बना लिया है।
प्रयागराज के शहरी क्षेत्रों के थाना करैली क्षेत्र की तो यहां पर यमुना नदी ने ससुर खदेरी के रास्ते करैली के विभिन्न क्षेत्रों में इस्लाम नगर, करेलाबाग से जुड़े मोहल्ले बाढ़ से प्रभावित दिखे। इन्हीं मोहल्लों में समाजसेवी शाहिद कमाल खान उर्फ बबलू द्वारा नाव के रास्ते लोगों को घरों तक राहत सामग्री पहुंचाने का कार्य पिछले कई दिनों से किया जा रहा। समाजसेवी शाहिद कमाल खान उर्फ बबलू के द्वारा खाने पीने की चीजों के साथ साथ डॉक्टर के सलाह अनुसार दवाई तक का भी वितरण किया गया। शाहिद कमाल ने कहा कि जब तक इस तरह की भयावह स्थिति बनी रहेगी हम पूरे तन्मयता के साथ अपने साथियों के साथ क्षेत्र में सेवा भाव से लगे रहेंगे और लोगों की सेवा करते रहेंगे। बाढ़ राहत शिविर केंद्र की बात करें तो वही मीरापुर क्षेत्र के डीएवी इंटर कॉलेज में बाढ़ राहत शिविर केंद्र जिला प्रशासन द्वारा नियुक्त किया गया जहां पर बाढ़ से प्रभावित हुए लोगों ने शरण ले रखा है। लेखपाल राघवेंद्र सिंह व राकेश मिश्रा ने बताया कि इस शिविर में 64 परिवारों के कुल 246 सदस्यों ने यहां पर शरण ले रखा है जिनमे से 45 बच्चे हैं। जिनके लिए खाने पीने की चीजों से लेकर स्वास्थ्य संबंधित सभी चीजें उपलब्ध कराई जा रही हैं। बाढ़ राहत शिविर में रह रहे लोगों ने भी जिला प्रशासन द्वारा दी गई सुविधाओं के बारे में भी बताया कि यहां हमें किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं है। बाढ़ क्षेत्रों में जिला प्रशासन के साथ ही अलग अलग जगहों पर कई समाजसेवी की तरफ से लोगों को खाद्य सामग्री वितरण करने का सिलसिला जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here