प्रयागराज में खबर छापने के खुन्नस मे दबंगों ने किया पत्रकार पर जानलेवा हमला

0
53

बारा प्रयागराज। बारा थाना क्षेत्र में दबंगों की दबंगई की खबर छापने के कारण पत्रकार पर जानलेवा हमला किया गया जिसकी लिखित शिकायत पत्रकार ने बारा पुलिस से जान माल की सुरक्षा की गुहार लगाई है। पत्रकार और उसका परिवार खौफ के साए में जी रहा है।
कौंधियारा थाना क्षेत्र के बघोलवा गांव निवासी सोनू सिंह उर्फ रणविजय सिंह नारीबारी क्षेत्र से एक हिंदी दैनिक अखबार के स्थानीय पत्रकार है जो बीते दिनों टोल प्लाजा पर अवैध वाहनों को पास कराने वाले पासर गैगं के खिलाफ लगातार खबर प्रकाशित करते रहे और उन्ही पासर गैंग द्वारा बारा के गन्ने चौराहे पर शराब की दुकान पर सेल्समैन से मारपीट करने संबंधी खबर प्रकाशन से खुन्नस खाए दबंगों ने बीते मंगलवार रात को पत्रकार के ऊपर जानलेवा हमला किया । स्थानीय लोगों के बीच बचाव के कारण किसी तरह पत्रकार जान बचाकर घर भाग गया दूसरे दिन पत्रकार सोनू सिंह थाने पर जाकर लिखित तहरीर देते हुए आरोप लगाया कि खबर छापने की खुन्नस में दबंगों ने जानलेवा हमला किया। पत्रकार सोनू सिंह ने बताया कि इसके पूर्व भी अवैध वाहनों को टोल प्लाजा पर पास कराने संबंधी खबर छापने पर उक्त दबंगों द्वारा जान से मारने की धमकी दी गई थी जिसकी शिकायत स्थानीय पुलिस से किया था लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई मंगलवार की रात जब वह अपने कार्यक्षेत्र नारीबारी से घर की ओर जा रहे थे तो हाईवे पर पटेल नगर चौराहे पर डांडो बारा थाना निवासी अंकित सिंह उर्फ मोनू और कोयल सिंह निवासी खौरिया अपने दर्जनों साथियों के साथ लाठी डंडा सहित आकर हमला बोल दिए स्थानीय लोगों के जुटने पर बीच-बचाव देखकर भागकर किसी तरह अपनी जान बचाई लाठी डंडा से लैस उक्त दबंग लोग जान से मारने की धमकी देते हुए कह रहे थे कि इतना मार देंगे कि पत्रकारिता भूल जाओगे। उक्त घटना से क्षेत्र के पत्रकारों में काफी आक्रोश व्याप्त है वहीं ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के दर्जनों सदस्यों ने इस बात की घोर निंदा करते हुए स्थानीय प्रशासन से कार्यवाही की मांग की है और कहा कि जल्द ही कार्यवाही नहीं की गई तो हम सभी पत्रकार आंदोलन के लिए बाधृय होंगे। वहीं क्षेत्र में आम चर्चा है कि गु उक्त दबंग व्यक्ति स्थानीय पुलिस को प्रतिदिन मोटी रकम अवैध वाहनों को पास कराने के एवज में देते है जिसके कारण स्थानीय पुलिस इन पर कार्यवाही करने से बचती है अब ऐसे में जब पत्रकार ही सुरक्षित नहीं है तो आम जनमानस का क्या होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here