जब रक्षक ही बन जाए भक्षक, दबंग सिपाही गरीब की जमीन पर कर रहा कब्जा

0
60
- दबंग सिपाही गरीब की जमीन पर कर रहा कब्जा, घटना सीसीटीवी में कैद
- भूमाफिया गरीब की जमीन पर कर रहें कब्जा, पीड़ित ने लगाई न्याय की गुहार

मोहित निषाद, प्रयागराज


प्रयागराज,झूसी-:प्रयागराज झूसी थाने के अंतर्गत आने वाले उस्तापुर महमूदाबाद का है,जहां पर पीड़ित रामचंद्र भारतीय पुत्र स्वर्गीय सोहन लाल के द्वारा यह आरोप लगाया गया कि हमारे जमीन को जबरन कुछ गुंडों के द्वारा कब्जा किया जा रहा है,आपको बता दें कि, पीड़ित की जमीन माननीय न्यायालय द्वारा वाद संख्या 1363/2015 में अस्थाई निषेधाज्ञा पारित किया गया है,जो आज भी कायम है,उक्त भूमि पर नीरज कुमार भारतीय निवासी मंफोर्डगंज थाना कर्नलगंज प्रयागराज केसरी निवासी अमेठी सत्यपाल और बाबा लाल पुत्र स्वर्गीय हजारी लाल निवासी नैका झूसी थाना झूसी प्रयागराज और 30 अज्ञात लोग प्रार्थी की जमीन पर बने बाउंड्री वॉल को जेसीबी से गिरा कर नष्ट कर दिए और बाउंड्री के अंदर लगभग 50 हरे-भरे पेड़ों को काटकर नष्ट कर दिया,भूमाफिया किस्म के लोग पीड़ित की जमीन पर जबरन कब्जा करके निर्माण कराना चाहते हैं पीड़ित ने जब ऐसा करने से रोका तो उन्होंने उसके सर पर कट्टा सटाकर बोले कि,जान से मार देंगे और भद्दी भद्दी गालियां देने लगे,तभी वहाँ पर नीरज भारतीय सिपाही हैं जो कि आए दिन कहते हैं कि ज्यादा कुछ करोगे तो फर्जी मुकदमे में फसा देंगे और इसकी जानकारी जब पीड़ित द्वारा थाने पर कि गई तो थाने के तरफ से उल्टा दबाव दिया जा रहा और कहा जा रहा है कि ज्यादा उछलोगे तो फर्जी मुकदमे में फसा कर जेल भेज दूंगा। वही जब थाने पर न्याय नहीं मिला तो पीड़ित व्यक्ति ने इसकी लिखित शिकायत जिलाधिकारी व एसएसपी और साथ में कई बार माननीय मुख्यमंत्री के पास भी की गई है,परंतु कोई भी कार्यवाही नहीं की गई। वही पीड़ित व्यक्ति द्वारा यह भी कहा जा रहा है कि,उक्त लोगों के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही करते हुए माननीय न्यायालय के आदेश का अनुपालन कराए जाने की कृपा करें। अन्यथा पीड़ित व उसके परिवार वालों को किसी भी समय अप्रिय घटना का शिकार होना पड़ेगा,वही बताया जा रहा है कि कब्जा कर रहे सिपाही नीरज भारतीय हर्ष फायरिंग में एक बार निलंबित भी हो चुके है, निलंबित होने के बाद भी यह सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। वही आए दिन पीड़ित को परेशान करते रहते हैं। आखिर क्या है? सिपाही नीरज भारती का मकसद। आखिर क्यों वह उस जमीन पर कब्जा करना चाहतें है,अब सवाल यहा यह खड़ा होता है। जहां एक तरफ पुलिस को जनता का सेवक कहा जाता है वही यह जन सेवक आए दिन गरीब पीड़ित को क्यों परेशान कर रहा है,आखिर इसके पीछे क्या कारण हैं। क्या इन्हें समझदारी क्या कोई भी डर नहीं है और ऐसे ही गरीब व्यक्ति परेशान करते रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here