नगरों के चौराहों, सड़कों के डिवाइडर एवं जेबरा क्रॉसिंग को साफ सुंदर बनाया जाएगा- ए0के0 शर्मा

0
112



लखनऊ: प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा ने निर्देश देते हुए कहा कि नगरों की साफ-सफाई एवं सुंदरीकरण के कार्यों में आमजन की सहभागिता लेने के लिए लोगों को जागरूक किया जाए। साथ ही शहरी क्षेत्रों में रहने वाले जन-सामान्य को स्वच्छ एवं स्वस्थ नगरीय परिवेश मिले तथा उनके जीवन में गुणात्मक परिवर्तन आए, सभी शहर सुंदर दिखे, इसके लिए 05 दिसंबर से 12 दिसंबर, 2022 तक ‘नगर सुशोभन अभियान’ चलाया जा रहा है। इस दौरान सभी नगरीय निकायों में साफ किए गए कूड़ा स्थलों को सुंदर एवं भव्य बनाकर जनोपयोगी बनाया जाएगा तथा विगत कई महीनों से प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में चल रहे स्वच्छता अभियान के दौरान की गई सफाई को स्थाई एवं टिकाऊ बनाया जाएगा।
नगर विकास मंत्री ए0के0 शर्मा ने बताया कि ‘नगर सुशोभन अभियान’ के दौरान शहरों को भव्य व सुंदर बनाने के लिए विगत 75 घंटों की सफाई को स्थाई एवं टिकाऊ बनाया जाएगा और वहां पर पौधरोपण, पेंटिंग, पार्क, बगीचा, सेल्फी प्वाइंट, बच्चों के खेलकूद एवं बुजुर्गों के बैठने के स्थान आदि बनाए जाएंगे। ऐसी जगहों पर समाज के कमजोर वर्गों के कल्याण हेतु नेकी की दीवार भी बनाई जाएगी।

ए0के0 शर्मा ने निर्देशित करते हुए कहा कि जिस किसी भी गार्बेज वाल्नरेबल प्वाइंट्स (ळटच्े) की सफाई अधूरी रह गई हो, उसे शीघ्र साफ कर सुंदर बनाने का कार्य किया जाए और उस स्थान पर पुनः कूड़ा एकत्रित न हो, इसके लिए स्थानीय निवासियों का सहयोग लें और उसे इस रूप में विकसित करें कि वह भविष्य में एक नजीर बन जाए। ऐसे स्थानों पर स्थानीय लोगों एवं कलाकारों के सहयोग से शाम को संगीत/बैण्ड आदि कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे, जो कि भविष्य में वहां की परम्परा बन जाए।
उन्होंने कहा कि सभी नगरों के चौराहों, सड़कों के डिवाइडर और जेब्रा क्रासिंग को साफ-सुथरा और पेंटिंग करके सुन्दर बनाया जाय तथा सड़कांे के गड्ढों एवं कट को शीघ्र भरा जाय। पीने के पाइप, सीवरलाइन, टेलीफोन, गैस की लाइन ले जाने के लिए खोदी गयी सड़कों की मरम्मत भी करायी जाय, जिससे कि लोगों को परेशानी न हो। उन्होंने अभियान चलाकर सड़कों को गड्ढामुक्त करने तथा इनके नवीनीकरण एवं रेस्टोरेशन के कार्य शीघ्र पूर्ण कराये जाएं और इस कार्य की फोटोग्राफी भी करायी जाय। स्कूलों, स्वास्थ्य केन्द्रों एवं सार्वजनिक स्थलों पर निकायों की नर्सरी के गमलों को सुशोभन के लिए रखा जायेगा। गलियों-मोहल्लों, नाले-नालियों की सफाई में कोई कमी न रहे, और इसे स्थायी बनाने के लिए आमजन का सहयोग लें, जिससे कि कोई कूड़ा-कचरा यहां न डालें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here