नगर विकास मंत्री ने सफाई मित्रों को सम्मानित करते हुए उन्हें सुरक्षा किट प्रदान किया

0
92

न्यूज़ ऑफ इंडिया( एजेंसी )


लखनऊ, प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा ने आज महर्षि वाल्मीकि की जयंती पर सफाई कर्मियों के सम्मान में नगरीय निकाय निदेशालय में आयोजित ‘सफाई मित्र सुरक्षा एवं सम्मान दिवस’ कार्यक्रम में सफाई मित्रों के कार्यों की प्रशंसा की और उन्हें शाल देकर सम्मानित भी किया। इस दौरान उन्होंने सफाई कार्मिकों के जीवन की सुरक्षा के लिए सुरक्षा किट भी प्रदान की। उन्होंने कार्यक्रम की शुरुआत महर्षि वाल्मीकि जी की प्रतिमा में पुष्प अर्पित कर तथा दीप प्रज्वलित कर किया। इस मौके पर उन्होंने प्रयागराज, वाराणसी, बनारस, झांसी, बिजनौर, बहराइच, एटा जिले की नगर पालिका जैथरा, बहराइच की लार नगर पंचायत के पदाधिकारियों से ऑनलाइन संवाद भी किया।
नगर विकास मंत्री ए0के0 शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन के तहत लोगों में साफ-सफाई के प्रति जागरूकता आई है। इसको बनाए रखने के लिए हमें सफाई कर्मियों के कार्यों की प्रशंसा करनी होगी और उनके मनोबल को भी बढ़ाना होगा। सफाई कर्मियों की मदद से प्रदेश को स्वच्छता में देश में नंबर 01 ही नहीं बल्कि वैश्विक रैंकिंग में भी स्थान बनाना है। इसके लिए सफाई कार्याे व सीवर सफाई में मशीन का अधिक से अधिक प्रयोग किया जाए। सफाई मित्रों के कार्यों की प्रशंसा हो और उन्हें प्रोत्साहित भी किया जाए। इस प्रकार सामूहिक प्रयास से ही सफाई कार्यों को पूरा किया जा सकता है।
ए0के0 शर्मा ने कहा कि प्रदेश की 01 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था को बनाने में सफाई मित्रों का भी महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। प्रदेश में धन-वैभव, सुख-समृद्धि लाने के लिए सफाई बहुत आवश्यक है। इसी प्रकार नगरी निकायों में समृद्धि तभी आएगी जब वे स्वच्छ होंगे। उन्होंने सफाई कर्मियों से कहा कि निकाय आपके घर जैसे हैं, इन्हें अपना घर मानकर ही साफ करें। आपके कार्यों से स्वयं के साथ आसपास के लोगों को भी सुकून मिलता है। उन्होंने गंदगी फैलाने वालों को भी चिन्हित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि व्यवस्था को अब गुड्-टू-ग्रेट बनाना है। अब किसी भी शहर में कूड़ा कचरा का ढेर नहीं दिखना चाहिए। गंदे स्थानों को साफ कर पार्क बनाए जाएं, उपयोगी स्थानों के रूप में विकसित किया जाए। इसी प्रकार प्रदेश के 70 हजार सार्वजनिक शौचालयों को भी साफ सुथरा रखना है। उन्होंने कहा कि चलता है वाला शब्द अब यूपी में नहीं चलेगा। कार्य को अच्छी तरीके से करके दिखाना होगा।
नगर विकास मंत्री ने सफाई कर्मियों की समस्याओं के समाधान के लिए तथा उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए प्रदेश के सभी 762 नगरीय निकायों में अधिकारियों की देखरेख में सेल बनाने के भी निर्देश दिए, जिससे उन्हें अपनी समस्याओं के समाधान के लिए तथा योजनाओं का लाभ लेने के लिए इधर-उधर न भटकना पड़े। उन्होंने कहा कि हमारे सफाई मित्र आयुष्मान कार्ड, आवास, बेटियों की शादी अनुदान, राशन आदि जैसी सुविधाओं के पात्र हैं, इन्हें इनका लाभ मिलना चाहिए।
उन्होंने कहा कि आज प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में 750 से ज्यादा स्थानों पर सफाई मित्र सुरक्षा एवं सम्मान दिवस मनाया गया, जिसमें जनप्रतिनिधियों, निकाय पदाधिकारियों, अधिकारियों, महापौर द्वारा सफाई मित्रों का सम्मान किया गया और उन्हें सुरक्षा किट भी प्रदान की गई। सफ़ाई मित्रो के सम्मान में आज नगरीय निकाय निदेशालय में आयोजित कार्यक्रम में भी 500 से ज्यादा सफाई कर्मियों को सम्मानित किया गया। पूरे प्रदेश से 26 हजार से ज्यादा लोग ऑनलाइन कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। सभी नगरीय निकायों में आज लगभग 10,000 सफाई मित्रों को सम्मानित किया गया।
प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात ने कहा कि सफाई कर्मी सफाई व्यवस्था की सबसे महत्वपूर्ण कड़ी हैं। उनके बगैर शहर को साफ करने की कल्पना करना भी बेकार है। इनकी मेहनत के बदौलत प्रदेश को स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 में 10वा़ँ स्थान देश में प्राप्त हुआ, जिसे वर्ष 2023 में पहले स्थान पर पहुंचाना है। गाजियाबाद ने सफाई के मामले में काफी अच्छा कार्य किया है उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की भी चिंता है कि शहर साफ हो और त्योहारों में बेहतर सफाई मिले। उन्होंने कहा कि सफाई कर्मियों की जो भी समस्याएं होंगी, उनका शीघ्र ही निराकरण किया जाएगा।
       कार्यक्रम में सफाई कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों ने भी योगी सरकार एवं नगर विकास मंत्री की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि समाज के अंतिम पायदान पर के लोगों को सम्मान देने का कार्य योगी सरकार ने किया है। सरकार द्वारा 75 वर्षों में पहली बार सफाई कर्मियों को सम्मानित करने का ऐतिहासिक कार्य किया गया, जो वाल्मीकि समाज के लिए प्रशंसनीय, सराहनीय एवं वंदनीय है। हमें मंत्री द्वारा सफाई मित्र कहकर संबोधित किया गया है। अब समय आ गया है कि सुदामा को अपना मित्र बनायें। उन्होंने आउटसोर्सिंग व्यवस्था में ठेकेदारों को लाभ होने की बात कही। इस बिचौलियपन को खत्म कर सीधे विभाग द्वारा भुगतान करने को कहा। कार्मिकों की देखभाल की जिम्मेदारी भी सरकार की ही है। प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन को पूर्ण करने में सफाई कार्मिक अपना पूर्ण योगदान दे रहे हैं।
        कार्यक्रम में विशेष सचिव सुनील चौधरी ने धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि सफाई कर्मियों को सम्मानित करने का ऐतिहासिक कार्य नगर विकास मंत्री की  सोच का परिणाम है। नगर विकास विभाग इस पुनीत कार्य को आगे भी जारी रखेगा। कार्यक्रम में अपर निदेशक स्वच्छ भारत मिशन जे0 रीभा, डॉक्टर असलम अंसारी, उपनिदेशक सीमा सिंह, सुनील यादव के साथ सफाई कार्मिक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here