निर्देशक इब्रान खान की फिल्म ‘पत्थर के फूल’ का पोस्ट प्रोडक्शन का काम हुआ शुरू

0
58

मुम्बई- निर्देशक इब्रान खान के निर्देशन और ए एस फिल्म प्रोडक्शन के बेनर तले बनी फिल्म पत्थर के फूल की शूटिंग सम्पन्न होने के बाद अब मुंबई में इस फिल्म के पोस्ट प्रोडक्शन का कार्य बडे ही तेजी से शुरू हो गया है।फिल्म के निर्देशक इब्रान खान ने बताया कि इस फिल्म की कहानी बेहद प्यारी है। जो भी इसे देखेगा, उसके दिल में इस फिल्म की कहानी जगह बना लेगी। मुझे लगता है हमारी फिल्म आज के हर युवा की कहानी है। इसमें गाने से लेकर संवाद भी बेहतरीन है। फिल्म का टाइटल ‘पत्थर के फूल थोड़ा अजीब लगेगा, लेकिन जब आप इस फिल्म को देखेंगे, तब समझ आएगा कि इस टाइटल को क्यों चुना गया।
फिल्म के निर्माता अक्षत अग्रवाल एवं अजीत सहगल ने बताया कि रोमांस में पड़े कपल को अक्सर आपने एक दूसरे को गुलाब का फूल देते देखा होगा, लेकिन भोजपुरी की खूबसूरत अभिनेत्री प्रियंका महाराज ‘पत्थर के फूल’ लेकर आ रही हैं, जो वे अपने प्रेमी को देंगी। यह थोड़ा अजीब लगेगा, मगर यह बात सोलह आने सच है। दरअसल, यह प्रियंका महाराज की आने वाली फिल्म ‘पत्थर के फूल’ को लेकर है, जिसकी शूटिंग वैशाली , सिलिगोरी , दार्जिलिंग के विभिन्न सुंदर लोकेशनों पर हुई है। फिल्म के सेट पर प्रियंका महाराज काफी उत्साहित नजर आ रही थी। ए एस फिल्म प्रोडक्शन के बैनर तले बनने वाली इस भोजपुरी लव स्टोरी ‘पत्थर के फूल’ के बारे में इब्रान खान ने आगे बताया कि इस फिल्म में श्रवण सुरु , प्रियंका महाराज , सूरज सिंह , अनूप अरोड़ा , आर के गोस्वामी , रूपा सिंह, पिंकी सिंह , अभय शर्मा , सुजीत यादव , तरुण कुमार , मनीष कुमार , प्रशांत पाण्डे, भरत भोजपुरिया , सूरज कुमार , सुजीत बाबा , आनंद कुमार , खुशी , रिया , जिया, बादल राज, नीतीश जयसवाल मुख्य भूमिका में हैं। कथा पटकथा व संवाद अमीर हमजा ने लिखा है। संगीत संतोष सिंह का है। गीत अरुण चौधरी, डी के बिगन , मुशाफीर जौनपुरी है और अमीर हमजा का है। मुख्य सहायक निर्देशक रजनीश रंजन , सहायक निर्देशक शिव शिवम हैं। एक्शन अली मंसूर और डी ओ पी विजय कुमार का है। कैमरामैन ऋषि ठाकुर हैं। एडिटर विभूति भूषण मुंबई , कोरियोग्राफर अजीत सहगल है।मेकअप अकाश कुमार , हेयर कृतिका कुमारी तथा ड्रेस डिजाइनर मुश्ताक राज खान है। प्रोडक्शन टीम मनीष कुमार , आर के एंड प्रीतम , अमित पंडित है। निर्देशक इब्रान खान ने बताया कि पिरितिया बा अनमोल , पिरितिया कबो टूटे ना और यही तो प्यार है । और साथ ही उन्हें मुखिया दामाद और देहाती प्यार के लिए अनुबंधित किया गया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here