पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी का 88 वर्ष की उम्र में निधन, CM योगी ने दी श्रद्धांजलि

0
81

पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी का रविवार सुबह निधन हो गया। उन्होंने अपने आवास पर सुबह अंतिम सांस ली। उनके निधन पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनके आवास पर पहुंचकर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। सीएम ने श्रद्धांजलि देने के बाद शोक संतप्त परिवार से मुलाकात की। सीएम योगी आदित्यनाथ ने पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी के बेटे नीरज त्रिपाठी और बहू कविता यादव त्रिपाठी से बातचीत कर उन्हें ढ़ांढ़स बधाया। इस मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी के निधन से एक युग का अंत हो गया। उन्होंने कहा कि जीवन भर एक खास विचारधारा के प्रति उनकी प्रतिबद्धता बनी रही।


पार्टी ने उन्हें जो दायित्व सौंपा उसका उन्होंने सफलतापूर्वक निर्वहन किया।
उनमें समाज के हर तबके को लेकर चलने की अद्भुत सामर्थ्य थी। सीएम ने कहा कि पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी एक उत्कृष्ट अधिवक्ता और संविधानविद् थे। उन्होंने कहा कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष, विधानसभा अध्यक्ष और एक राज्यपाल के रूप में अपनी सेवाएं दी। अपने सभी दायित्वों का निर्वहन करते हुए 89 साल की उम्र में उन्होंने भौतिक शरीर का त्याग किया।सीएम ने कहा कि प्रदेश शासन और प्रदेश की जनता की ओर से उन्हें श्रद्धांजलि देने आया हूं। कहा पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी ने सहजता, सरलता, विद्वता और समन्वय का उत्कृष्ट उदाहरण पेश किया।उनके जाने से एक युग का अंत हो गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव सिंह और कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने भी पूर्व गवर्नर पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।


पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी के निधन पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी प्रयागराज पहुंचे। उन्होंने पूर्व गवर्नर केसरी नाथ त्रिपाठी के आवास पर पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। डिप्टी सीएम केशव के साथ ही बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने भी श्रद्धांजलि दी है। केशव प्रसाद मौर्य और भूपेंद्र चौधरी ने परिवार वालों के साथ मिलकर संवेदना जताई है। दोनों नेताओं ने कहा है कि केसरी नाथ त्रिपाठी के निधन से पार्टी और समाज को बड़ा नुकसान हुआ है।
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने कहा है पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी का निधन दुखद है। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी को मजबूत आधार देने का काम किया और हमारी विचारधारा को आगे बढ़ाने में उनका बहुत बड़ा योगदान रहा। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि पूरा भाजपा परिवार शोकाकुल है और ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि इस दुख को सहने की उनके परिजनों को। उन्होंने कहा कि जो मार्ग व अधूरा छोड़ गए हैं उसी को पूरा करेंगे और उनके बताए मार्ग पर चलने का हम लोग संकल्प लेते हैं।



वहीं डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने भी पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी के निधन को अपूरणीय क्षति बताया है। उन्होंने कहा है कि उनके निधन से हमने अपने अभिभावक को खो दिया है। प्रयागराज और पंडित केसरी नाथ त्रिपाठी एक-दूसरे के पर्याय हैं। आर एस एस से लेकर जनसंघ और बीजेपी में उनका जो योगदान उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता है। उनके हर दायित्व में प्रयागराज की जनता और कार्यकर्ताओं से उनका बेहद लगाव रहा। लोग अपनी किसी भी समस्या में अपने अभिभावक और संरक्षक के रूप में उनसे मिलते थे और उनकी समस्याओं का सहजता से समाधान करते थे। आज का दिन भाजपा और प्रयागराज के लिए दुखद है। उन्होंने कहा है कि कल ही उनके बेटे अपर महाधिवक्ता नीरज त्रिपाठी से बात हुई थी उन्होंने उनके अस्वस्था के बारे में जानकारी दी थी और पीजीआई में भर्ती कराने को कहा था। लेकिन आज सुबह यह सूचना आएगी वह हम सब को छोड़ कर चले गए हैं। उनके निधन से हम सभी को गहरा धक्का लगा है।
उन्होंने कहा कि आज उनके निधन पर मैं निशब्द हूं। केशव प्रसाद मौर्य ने केसरी नाथ के निधन की वजह से प्रयागराज के अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं।

YouTube player

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here