प्रदेश सरकार पर्यावरण एवं नदियों के संरक्षण के प्रति संवेदनशील -मत्स्य विकास मंत्री

0
97

न्यूज़ ऑफ इंडिया ( एजेंसी )


लखनऊः उत्तर प्रदेश के मत्स्य विकास कैबिनेट मंत्री डॉ संजय कुमार निषाद ने प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत नदियों में मत्स्य संरक्षण एवं पर्यावरण संतुलन के लिए रिवर रैंचिंग कार्यक्रम के क्रम में आज यहां बीकेटी विकासखंड कठवारा गांव के ककरहा घाट, गोमती नदी पर मेजर कार्प प्रजाति की मछलियों के डेढ़ लाख मत्स्य अंगुलिकाएं छोड़ी।
इस अवसर पर संजय निषाद ने बताया कि मत्स्य की विभिन्न प्रजातियों के संरक्षण और पर्यवारण के सन्तुलन को बनाये रखने के लिए रिवर रैंचिंग कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। राज्य सरकार नदियों और पर्यवारण को लेकर गंभीर है। गोमती नदी में डेढ़ लाख मत्स्य अंगुलिका को प्रवाहित किया गया है, गोमती नदी से निकाली गई मछलियों के ब्रूडर से तैयार बच्चो को गोमती नदी में प्रवाहित किया गया है, क्योंकि जिस पानी और नदी से मछलियों को निकाला जाता है उसी पानी नदी में वापस उनके बच्चो को छोड़ा भी जाता है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय मंे राजधानी की शान गोमती नदी की सुंदरता और अधिक बढ़ाई जायेगी। गोमती नदी में रिवर रैंचिंग करना एक सफल कार्य रहा है। उन्होंने कहा कि इसके लिए मत्स्य विभाग बधाई का पात्र है, जिसने इतनी बडी मात्रा में मत्स्य सम्पदा को स्वच्छ गोमती बनाने के लिए सफल प्रयोग किया है।
संजय निषाद ने प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजनान्तर्गत सामूहिक दुर्घटना बीमा योजना के लाभार्थियों को बीमा प्रमाण पत्र देकर लाभान्वित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here