प्रयागराज में अघोषित बिजली कटौती से किसान व छात्र हैं परेशान

0
50

नारीबारी प्रयागराज।
ग्रामीण अंचल में इन दिनों बिजली की अघोषित कटौती के कारण जहां लोगों में आक्रोश है, तो वहीं अगर देखा जाए कड़ाके की ठंड व शीतलहर के बीच की जा रही 12 घंटे की अघोषित बिजली कटौती से लोगों में काफी आक्रोश है।
वही बिजली विभाग की इस मनमानी पूर्ण रवैया से जहां व्यापारियों का व्यापार भी प्रभावित है तो वही सबसे ज्यादा नुकसान किसानों का हो रहा है, जो गेहूं की सिंचाई के लिए बिजली की उपलब्धता न होने से वह अपने ट्यूबवेल को नहीं चला पा रहे हैं।
फुलतारा के रहने वाले किसान सूबेदार सिंह, सोनू गुप्ता ने बताया कि बिजली की अघोषित कटौती कार्ड जहां वह समय पर गेहूं की सिंचाई नहीं कर पा रहे हैं। वही बिजली विभाग के द्वारा केवल लोगों से मनमाने बिजली के बिल वसूले जा रहे हैं। जबकि नारीबारी के रहने वाले प्रभाकांत शुक्ला, विवेक कुमार शुक्ला के द्वारा बताया गया कि वर्तमान समय में जहां बीए बीएससी की परीक्षा चल रहा है वही यूपी बोर्ड की परीक्षा की तैयारी में लगे छात्रों के लिए सुबह शाम होने वाली अघोषित बिजली कटौती सबसे बड़ी मुसीबत बनी हुई है। जिससे ग्रामीण अंचल के छात्रों की पढ़ाई बिजली कटौती कारण बाधित हो रही है। वही सुरवल चंदेल के रहने वाले बबलू विश्वकर्मा के द्वारा बताया गया कि समय पर गेहूं की सिंचाई ना हो पाने से गेहूं की पैदावार में भी कमी होगी। लेकिन बिजली विभाग के अधिकारियों को यह सब कहां पता। वही इन किसानों के द्वारा यह भी कहा गया कि यदि बिजली की इसी तरह कटौती होती रही वह सभी इस बात की शिकायत जनप्रतिनिधियों से भी करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here