प्रयागराज में नहर के किनारे अचेत अवस्था में पाए गए तीन युवक, जहरखुरानी के हुए शिकार

0
43

दिल्ली से वापस अपने घर को लौट रहे तीन युवक हुए जहरखुरानी का शिकार, बेहोशी की हालत में तीनों युवक पाए गए नहर के किनारे, ग्रामीणों के द्वारा पुलिस को दी गई सूचना। मौके पर पहुंची पुलिस के द्वारा बेहोशी की हालत में पड़े तीनों युवकों को उपचार के लिए पास के ही अस्पताल में कराया गया भर्ती।
शंकरगढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत मवैया मोड़ के पास नहर के किनारे तीन युवक अचेत अवस्था में शाम के वक्त पड़े हुए देख कर राहगीरों के द्वारा तत्कालीन नारीबारी चौकी प्रभारी को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस के द्वारा बेहोशी की हालत में तीनों युवकों को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया। वही पुलिस के द्वारा तीनों युवकों की जामा तलाशी लेने पर जहां एक युवक का आधार पाया गया उसी के आधार पर तीनों युवकों की शिनाख्त हो पाई। पुलिस के द्वारा तीनों युवकों के परिजनों को भी सूचना दे दी गई है।
जबकि इस संदर्भ में चौकी प्रभारी नारीबारी संतोष कुमार सिंह के द्वारा बताया गया कि जहरखुरानी का शिकार हुए युवकों का नाम विजयराज पुत्र जगन्नाथ, अनीश पुत्र मेवालाल, निवासी कोठारी सोनबरसा तहसील त्योंथर थाना सोहागी रीवा मध्य प्रदेश का रहने वालें है। जबकि तीसरा युवक लालकृष्ण आदिवासी पुत्र गिरधर लाल आदिवासी निवासी थाना सोहागी रीवा मध्य प्रदेश के रहने वाला है।
वही उपचार के दौरान मामूली रूप से होश में आए विजयराज पुत्र जगन्नाथ के द्वारा बताया गया कि वह लोग दिल्ली में प्राइवेट कंपनी में काम किया करते थे और तीनो लोग वापस घर आ रहे थे। सुबह प्रयागराज जंक्शन के पास से ही वह एक ऑटो में बैठे और फिर एक दुकान पर चाय नाश्ता किए, उसके बाद उन्हें कुछ भी पता नहीं चला कि वह कैसे यहां तक आए।
वही इस संदर्भ में चौकी प्रभारी नारीबारी संतोष सिंह के द्वारा बताया गया कि युवकों के परिजनों को सूचना दी गई है। वहीं तीनों युवकों के पूरी तरह होश में आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि उनके पास कितने पैसे थे और उन्होंने रास्ते में किस दुकान पर रुक कर चाय नाश्ता किए थे। जबकि तीनों युवकों का इलाज कस्बे के ही एक निजी अस्पताल में कराया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here