प्रयागराज में 16 से 22 जुलाई के मध्य आयोजित होने वाले भूजल सप्ताह का किया शुभारंभ

0
138



रंजीत निषाद

उपायुक्त, मनरेगा की अध्यक्ष्ता में शनिवार को विकास भवन सभागार में भूगर्भ जल के उपयोग में लगातार वृद्वि एवं गिरते भूजल स्तर तथा आसन्न संकट को दृष्टिगत रखते हुए जन-सामान्य में इसके संरक्षण, प्रबन्धन, विवेकयुक्त उपयोग एवं विकास तथा विनियमित दोहन के प्रति जागरूकता की दृष्टि से इस वर्ष भी दिनांक 16-7-2022 से 22-07-2022 के मध्य भूजल सप्ताह का आयोजन मुख्य विचार बिन्दु ”जन-जन तक जल पहुॅचाना है, जल संरक्षण अपनाना हेै’’ के उदद्ेष्य से भूजल दिवस के उद्घाटन समारोह का आयोजन किया गया। इस सप्ताहिक कार्यक्रम को सफलतापूर्वक मनाये जाने हेतु मण्डलीय/जनपदीय अधिकारियों तथा स्वयं सेवी संस्थाओं ने प्रतिभाग किया। उद्घाटन समारोह का शुभारंभ कपिल कुमार, उपायुक्त मनरेगा द्वारा दीप प्रज्जवलन से हुआ तथा उपस्थित अधिकारियों/प्रतिभागियों को जल संरक्षण हेतु शपथ दिलायी गयी। सर्वप्रथम रवि शंकर पटेल, हाईड्रोलाजिस्ट, भूगर्भ जल विभाग द्वारा समस्त प्रतिभागियों को भूगर्भ जल परिचय एवं वास्तविक स्थिति से अवगत कराते हुए कृषि, उद्योग एवं घरेलू उपयोग मंे जल संरक्षण हेतु प्रतिभागियों को विभिन्न उपायों की जानकारी दी गयी। पटेल, द्वारा यह भी अवगत कराया गया कि धरती का मात्र 03 प्रतिशत ही शुद्व जल है। उपायुक्त कृषि द्वारा सुझाव दिया गया कि जन-मानस की मानसिकता के बदलाव हेतु जन-जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जाने की आवश्यकता है जिससे जल संचयन को अधिक प्रभावी बनाया जा सकता है। जागृति पाण्डेय जिला युवा अधिकारी ने जल संरक्षण हेतु 15 से 29 वर्ष के आयु वाले युवाओं को अधिक से अधिक भागीदारी दिये जाने का सुझाव दिया। उक्त के अतिरिक्त श्री शिव भषण पाण्डेय, लालजी सिंह(गाॅधी) , एन0जी0ओ0 एवं आर0पी0सिंह बघेल, कृषक द्वारा जल संचयन के क्षेत्र में अपने विचारों से कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागियों को अवगत कराया। चाका से आये जन प्रतिनिधि ने पानी के दुरूपयोग करने वालों के विरूद्व कानून का डर व्याप्त कराने हेतु कदम उठाने का सुझाव दिया। अन्त में उपायुक्त मनरेगा ने जल संचयन के प्रति जन-मानस का मानसिक विकास करने का सुझाव देते हुए इस क्षेत्र में कार्य करने वाली संस्थाओं से निवेदन किया कि आप जल संचयन के क्षेत्र में अपना योगदान ज़्यादा से ज्यादा करें। कभी-कभी सेवा भाव से कार्य करने वालों पर आरोप भी लगते है जिससे भयभीत न हो क्योंकि जो कार्य करता है आरोप भी उसी पर लगता है। उपायुक्त मनरेगा ने सभी ब्लाकों में 10-10 आधुनिक तालाब बनाने का आश्वासन दिया। ईशा सिंह युवा कल्याण अधिकारी, नेहरू युवा केन्द्र प्रयागराज द्वारा कार्यक्रम का संचालन किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here