प्रयागराज में बीए बीएससी के छात्रों से नकल कराने के नाम पर प्रबंधक ले रहे अतिरिक्त पैसे

0
52



कौंधियारा प्रयागराज।
ग्रामीण क्षेत्रों में कुकुरमुत्ते की तरह खुले वित्तविहीन डिग्री कॉलेजों में इन दिनों बीए बीएससी की परीक्षा देने के लिए छात्रों को प्रवेश पत्र देने के समय जहां फीस के नाम पर अधिक पैसों की वसूली की जा रही है, तो वही छात्रों से परीक्षा केंद्र पर नकल कराने के नाम पर भी पैसों की उगाही की जा रही है।
जारी में संचालित एक डिग्री कॉलेज में प्रवेश पत्र लेने गए छात्रों से जहां कालेज के प्रबंधक व वहां मौजूद अन्य कर्मचारियों के द्वारा प्रवेश पत्र देते समय बीए और बीएससी के छात्रों से परीक्षा के समय नकल की सुविधा कराने के उद्देश्य से 100 रूपए प्रति छात्र की दर से पैसों की उगाही की जा रही है। डिग्री कॉलेज में पढ़ने वाले कुछ छात्रों ने नाम नहीं उजागर करने की शर्त पर बताया कि प्राइवेट डिग्री कॉलेजों में जहां एक दिन भी कक्षाएं संचालित नहीं होती है। वही डिग्री कॉलेज के प्रबंधकों के द्वारा जहां नकल कराने के नाम पर ₹500 से लेकर ₹1000 तक की अतिरिक्त पैसे छात्रों से लिए जा रहे हैं।
वही समाजसेवी रोशन लाल ओझा के द्वारा बताया गया कि जब उच्च शिक्षा पाने वाले छात्रों से प्रबंधकों के द्वारा सुविधा शुल्क लेकर नकल कराने के उपरांत पास कराया जा रहा है, तो ऐसे में उन छात्रों की शिक्षा क्या होगी यह स्वयं सोचा जा सकता है। उनके द्वारा यह भी कहा गया कि विश्वविद्यालय के कुलपति के द्वारा ऐसे डिग्री कॉलेजों पर कार्रवाई करते हुए उन की मान्यता रद्द की जानी चाहिए जो छात्रों को पढ़ाने के बजाय उनसे नकल कराने के नाम पर धन उगाही कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here