मंत्री आशीष पटेल ने प्राविधिक शिक्षा विभाग को और बेहतर करने हेतु की विभागीय बैठक

0
109

न्यूज़ ऑफ इंडिया ( एजेंसी )


लखनऊ: प्रदेश के प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशीष पटेल ने लखनऊ स्थित फैकल्टी आफ आर्किटेक्चर के सभा कक्ष में प्राविधिक शिक्षा विभाग को और बेहतर करने की विभागीय बैठक की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि संस्थानों में सीटें खाली न रहें यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने इस संदर्भ में सभी संस्थानों के निदेशकों से उनके सुझाव 22 अक्टूबर, 2022 तक मांगे हैं। उन्हांेंने कहा कि बैठकों में पूर्व में दिये गये निर्देशों का अनुपालन न करने वाले निदेशकों से स्पष्टीकरण मांगे जाए। संस्थानों में शिक्षणेत्तर रिक्त पदों का अधियाचन 05 नवम्बर तक उ0प्र0 अधीनस्थ चयन आयोग को उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने सभी प्राविधिक संस्थानों के निदेशकों को सख्त लहजे में निर्देशित करते हुए कहा कि संस्थान के हित में कार्य करें।
मंत्री ने तीनों प्राविधिक विश्वविद्यालयों व इंजीनियरिंग कालेजों में शैक्षिक स्टाफ व निदेशक की नियुक्ति प्रक्रिया को बेहतर व पारदर्शी बनाने, टेक्निकल एजूकेशन एलूमनाई नेटवर्क की संरचना तैयार करने तथा चयन में सही रोस्टर की व्यवस्था के क्रियान्वयन हेतु पूर्व में गठित तीन सदस्यीय समिति की सिफारिशों पर एक सप्ताह में कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने सभी संस्थानों में रिक्त पदों को भरे जाने हेतु भारत सरकार एवं उ0प्र0 सरकार के नियमों व शासनादेश के अनुसार शीघ्र कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने प्रदेश में खनन अभियांत्रिकी का नया पाठ्यक्रम प्रारम्भ करने हेतु अधिकारियों से विचार विमर्श किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि खनन अभियांत्रिकी का नया पाठ्यक्रम प्रारम्भ करने के संबंध में पूर्ण प्रस्ताव प्रस्तुत की जाए।
मंत्री जी द्वारा प्राविधिक शिक्षा विभाग के प्रस्तावित कार्ययोजना के संबंध में विस्तार से चर्चा की गयी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि प्रस्ताविक कार्य योजना पर एक प्रजेन्टेशन तैयार किया जाए। उन्होंने प्रदेश के समस्त राजकीय इंजीनियरिंग कालेजों में शिक्षा की गुणवत्ता में और सुधार लाने हेतु तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है।
बैठक में प्रमुख सचिव प्राविधिक शिक्षा श्री सुभाष चन्द्र शर्मा, विशेष सचिव अन्नावि दिनेशकुमार, कृपा शंकर, कुलपति एकेटीयू प्रो0 प्रदीप कुमार मिश्र सहित संबंधित विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे। साथ ही गूगल मीट के माध्यम से निदेशक राजकीय इंजीनियरिंग कालेज आजमगढ़, अम्बेडकरनगर, मैनपुरी, सोनभद्र, बांदा, बिजनौर, कन्नौज आदि जुड़े रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here