मां मैं स्कूल नहीं जाऊंगी,सर करते हैं गंदी बातें,छात्राओं ने खोली इश्तियाक की घिनौनी पोल

0
75



मुरादाबाद।गुरु को भगवान से भी ऊपर का दर्जा दिया गया है, लेकिन उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में एक शिक्षक की घिनौनी करतूत उस समय सामने आई।यहां छात्राओं ने एक शिक्षक की घिनौनी करतूत की पोल खोल दी है।छात्रा ने अपनी मां से कहा कि हम स्कूल नहीं जाएंगे,सर क्लास में गंदी बातें करते हैं, छेड़छाड़ करते हैं।इस तरह की शिकायतें करने पर पहले परिजन समझते थे कि उनकी बेटियां स्कूल जाने के नाम पर बहाना बना रही हैं। परिजनों को सिर्फ गुरु शिष्य के रिश्ते पर भरोसा था।परिजन अनजान थे कि स्कूल में गुरु नहीं गुरु घंटाल इश्तियाक किताबों से हटकर एक गंदा चैप्टर पढ़ाता है।

आरोपी शिक्षक इश्तियाक अहमद दो वर्षों से अपने गंदे चैप्टर को पढ़ाई के दौरान पढ़ाता था। इश्तियाक को अपने अंजाम का पता नहीं था,लेकिन जब इश्तियाक की करतूतों का भांडा
ठाकपुरद्वार कोतवाली क्षेत्र के कमालपुरी ढकिया मार्ग स्थित जूनियर हाईस्कूल में फूटा तो लोगों की समझ में आ गया कि इश्तियाक गुरु नहीं कुछ और भी है।परेशान परिजनों के समूह ने शिक्षक की शिकायत की तो अन्य शिक्षकों ने इश्तियाक से दूरी बना ली। गांव की डरी सहमी छात्राओं ने गुरु घंटाल के बंद चैप्टर के पन्नों को खोलना शुरू कर दिया है।इश्तियाक अभी भी फरार चल रहा है।

इसके पहले आरोपी शिक्षक इश्तियाक अहमद मूंडापांडे स्थित एक स्कूल में तैनात था।पुलिस भले ही इश्तियाक को पकड़ने में देर लगा रही है,लेकिन उसकी करतूत कई गांव के लोगों
ने पकड़ ली है। अन्य स्कूलों के शिक्षक भी अनुदेशक इश्तियाक का नाम लेने से परहेज कर रहे हैं।पुलिस इश्तियाक को पकड़ने के लिए उसकी सीडीआर मंगाई है।इश्तियाक की अंतिम लोकेशन बुधवार को दुलहापुर उसके गांव में थी।इसके बाद इश्तियाक ने अपना मोबाइल बंद कर लिया है।इश्तियाक को पकड़ने के लिए पुलिस टीमें प्रयास कर रही हैं।

पीड़ित छात्राओं के परिजनों ने बताया कि वो गुरु कहलाने लायक नहीं है। उसे पकड़कर तुरंत जेल में डाल देना चाहिए।वह स्कूल में 12-13 साल की छात्राओं से गंदी बातें करता था। इतना ही नहीं एक छात्रा की दादी ने बताया कि पढ़ाने के बहाने वो अपनी कुर्सी छोड़कर उसकी बेंच पर बैठ जाता है और फिर गलत तरीके से उसे टच करता है। इसी तरह की हरकत वह स्कूल की कई और छात्राओं के साथ भी करता है।

जिन छात्राओं ने शिक्षक इश्तियाक अहमद पर ये गंभीर आरोप लगाए है उनकी उम्र 11 से 13 साल के बीच है।ये कक्षा 6 से लेकर कक्षा 8 तक की छात्राएं हैं। छात्राओं के परिजनों ने एक साथ आरोपी शिक्षक इश्तियाक अहमद के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है।

बीएसए बीपी सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी टीचर इश्तियाक अनुदेशक के पद पर कार्यरत है। इश्तियाक के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद उसे तुरंत स्कूल से हटाकर बीआरसी पर अटैच कर दिया गया है। उसे सेवा समाप्ति का नोटिस भी जारी किया गया है।

एसपी ग्रामीण संदीप कुमार मीणा ने बताया कि आरोपी इश्तियाक के खिलाफ धारा 354 के साथ पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज है। पुलिस ने घटना के संदर्भ में छह अभिभावकों के बयान दर्ज किए हैं। पुलिस आरोपी को जल्द गिरफ्तार करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here