मुख्य सचिव ने वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से समस्त मण्डलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

0
86

न्यूज़ ऑफ इंडिया ( एजेंसी)


दिनांक: 14 सितंबर, 2022  लखनऊः मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से समस्त मण्डलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में नमामि गंगे एवं ग्रामीण योजना जलापूर्ति, कृषि, नियोजन, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण आदि विभागों के कार्यों की समीक्षा की गई। 

             अपने संबोधन में मुख्य सचिव ने कहा कि प्रदेश में 38 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। इसके अलावा साढ़े 3 करोड़ बूस्टर डोज आम जनमानस ने लगवा ली है।

             उन्होंने सभी मंडलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों  को निर्देशित किया कि 15 सितंबर से पहले पद्म अवार्ड के लिए पोर्टल पर सामाजिक कार्य करने वाले ऐसे लोगों के नाम को अपलोड कर दिये जाएं, जिन्होंने जिलों में निःस्वार्थ भाव से कार्य किया हो। उन्होंने कहा कि यूपी में 17 सितंबर से लेकर 2 अक्टूबर तक ‘सेवा पखवाड़ा’ कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों में 17 सितंबर को रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा, 18 सितंबर को निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण का कार्यक्रम होगा। 19 सितंबर को भारत सरकार द्वारा जनकल्याण हित में शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता मिशन सहित अन्य क्षेत्रों में जो कार्य हुए उसकी प्रदर्शनी सभी जनपदों में लगाई जाएगी। 20 सितंबर को शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा। 21 सितंबर को अमृत सरोवर का कार्यक्रम किया जाएगा। 22 सितंबर को जल ही जीवन कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। सभी जनपदों में 23 सितंबर को एमएसएमई के माध्यम से लोकल फॉर वोकल कार्यक्रम किया जाएगा। 24 सितंबर को कृत्रिम अंग उपकरणों का वितरण कार्यक्रम आयोजन किया जायेगा जिसमें दिव्यांगजन विभाग द्वारा सभी जनपदों में दिव्यांगजनों को उपकरण दिये जाएंगे। 25 सितंबर को पंडित दीन दयाल उपाध्याय के जन्मदिवस पर सूचना विभाग द्वारा सभी जनपदों में प्रदर्शनी लगाई जाएगी। 26 सितंबर को शिक्षा विभाग द्वारा विभिन्नता में एकता (एक भारत, श्रेष्ठ भारत) का कार्यक्रम किया जाएगा। 29 सितंबर को सभी जनपदों में टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। 30 सितंबर को टीबी मुक्त अभियान चलाया जाएगा। 1 अक्टूबर को वन विभाग द्वारा पूरे प्रदेश में वृक्षारोपण का कार्यक्रम किया जाएगा। 2 अक्टूबर (गांधी जयंती) पर खादी के प्रति आम जनमानस को जागरूकता लाई जायेगी। 

               उन्होंने कहा कि प्रदेश में जितने भी कार्यक्रम या अभियान चलाये जाएंगे उन सभी की फोटो तथा वीडियो नमो एप या विभागीय ट्विटर पर अपलोड किया जाए। उन्होंने कहा कि बेहतर प्रदर्शन करने वाले जनपदों को सम्मानित भी किया जाएगा। 

                इसके पूर्व  गौतमबुद्धनगर डीएम ने स्टाम्प एवं पंजीयन के विषय पर प्रस्तुतीकरण दिया। उन्होंने बताया कि जनपद में ई-रेंट एग्रीमेंट शुरु किया गया है। शहर में ई-रेंट एग्रीमेंट के तहत लोगों को जागरुक किया जा रहा है जिससे उनके जीवनशैली को इज आॅफ लिविंग के तहत और भी सरल बनाया जा सके तथा उन्हें सम्बन्धित कार्यालय के अनावश्यक चक्कर न लगाने पडे़।

             इसी क्रम में गाजियाबाद के मुख्य विकास अधिकारी ने अमृत सरोवर के विषय पर अवगत कराया। उन्होंने बताया कि अमृत सरोवर योजना केंद्र और प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। इन सरोवरों को बहुउद्देशीय स्वरूप में बनाया जाना अति आवश्यक है। मानव जीवन का आधार जल है लेकिन धीरे-धीरे जल स्तर कम होता जा रहा हैं। जल स्तर को सामान्य बनाए रखने के लिए तालाबों का जीर्णोद्धार अमृत सरोवर योजना के अंतर्गत कार्य कराया जा रहा हैं, जिससे जनपद के भूगर्भ जल का संरक्षण व संवर्धन हो सके। जिले में तालाबों का सुंदरीकरण किया जा रहा है। शहर के सबसे पुराने तालाबों में से एक पक्का तालाब का सुंदरीकरण किया गया है। इसके साथ ही उस्मानगढ़ी में तालाब विकसित करने का कार्य किया गया है। 


           इसी क्रम में वाराणसी मंडलायुक्त ने एग्री एक्सपोर्ट हब के बारे में अवगत कराया। उन्होंने बताया कि वाराणसी सहित पूर्वांचल के प्रगतिशील किसानों के कृषि उत्पादों को खाड़ी देशों, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया सहित कई देशों में हजारों टन फल, सब्जी और अनाजों का निर्यात किया गया है। विदेशों में बनारसी सब्जियों और अनाज की बढ़ रही मांग को देखते हुए पूर्वांचल के किसान उसी हिसाब से खेतों में पैदावार कर रहे हैं। इसके अलावा किसानों को निर्यात से जुड़ी आधुनिक जानकारी, खेती करने की आधुनिक तकनीक के बारे में भी बताया जा रहा है। 


           बैठक में कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी, नमामि गंगे विभाग के प्रमुख सचिव अनुराग श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य पार्थसारथी सेन शर्मा, सचिव नियोजन आलोक कुमार समेत अन्य अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here