मुस्लिम उलेमाओं का ऐलान- डीजे बजाने वालों के निकाह और जनाजे में नहीं करेंगे शिरकत

0
30



ग्रेटर नोएडा के दादरी कस्बे से बड़ी खबर सामने आई है। कस्बे के नई आबादी मोहल्ले में एक मुस्लिम युवक की शादी में घुड़चढ़ी के दौरान डीजे बजाया जा रहा था। डीजे की आवाज बहुत ज्यादा थी। यह जानकारी मिलते ही मुस्लिम समुदाय के उलेमा मौके पर पहुंच गए। इन लोगों ने घुड़चढ़ी में बज रहा डीजे बंद करवा दिया। इतना ही नहीं उलेमाओं ने बाकायदा पंचायत बुलाई। समुदाय के बुजुर्गों, युवाओं और तमाम लोगों को इकट्ठा करके फरमान जारी किया गया है। उलेमाओं ने साफ तौर पर कहा है कि शादी-निकाह और किसी भी खुशी के मौके पर डीजे नहीं बजाया जाएगा। यह हमारे संप्रदाय की नाफरमानी है। सरकार ने भी डीजे बजाने पर पाबंदी लगा रखी है। इतना ही नहीं उन्हें उलेमाओं ने साफ कहा है कि जो लोग अब के बाद नाफरमानी करेंगे, उनके यहां निकाह तो दूर जनाजे तक में कोई उलेमा शिरकत नहीं करेगा।

*डीजे के साथ ही आतिशबाजी करने पर भी पाबंदी लगाई*

मुस्लिम उलेमाओं ने एक और बड़ा फैसला सुनाया है। समाज के लोगों को हिदायत है कि शादी बर्थडे और दूसरे किसी भी आयोजन में आतिशबाजी नहीं की जाएगी। यह हिदायत जारी होने के बावजूद शादी में डीजे बजाने और आतिशबाजी करने वालों का बहिष्कार किया जाएगा। इन लोगों ने बाकायदा एक वीडियो जारी करके कहा है कि जो भी परिवार डीजे बजवायेगा और आतिशबाजी करेगा उसका बहिष्कार होगा। कोई भी उलेमा निकाह में शामिल नहीं होगा। डीजे बजाने वालों की पहचान करके उनके परिवार से जुड़े जनाजे में भी शामिल नहीं होंगे। दादरी के उलेमाओं ने यह बड़े फैसले लिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here