विश्वविद्यालय में 500 महिला और 500 पुरुष खिलाडिय़ों के लिए कुल 1000 सीटें होंगी -डा0 नवनीत सहगल

0
59

न्यूज़ ऑफ इंडिया ( एजेंसी )



लखनऊ: मेरठ के सरधना में प्रस्तावित मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त होगी। यह उत्तर प्रदेश का पहला खेल विश्वविद्यालय होगा। लगभग 90 एकड़ भूमि पर इस उच्च स्तरीय अत्याधुनिक व मार्डन स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का निर्माण किया जायेगा। इस विश्वविद्यालय में सभी तरह के ओलंपिक खेल से संबंधित अत्याधुनिक प्रशिक्षण सुविधाएं उपलब्ध कराई जायेंगी। यहां खिलाड़ियों को पीएचडी, एमफिल, मास्टर डिग्री, बैचलर डिग्री पी0जी0 डिप्लोमा करने का अवसर मिलेगा। इसमें 500 महिला और 500 पुरुष खिलाडिय़ों के लिए कुल 1000 सीटें होंगी।
अपर मुख्य सचिव, खेल विभाग, डा0 नवनीत सहगल आज वन विभाग के पारिजात सभागार में मेजर ध्यानचंद खेल विश्वविद्यालय के निर्माण कार्यों के क्रियान्वयन की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। अपर मुख्य सचिव के समक्ष खेल विश्वविद्यालय के निर्माण कार्यों के सम्बन्ध में एक ले-आउट का प्रस्तुतिकरण किया गया। उन्होंने इस विश्वविद्यालय के निर्माण हेतु लोक निर्माण, वित्त तथा नियोजन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर प्रोजेक्ट की डिजाइन एवं खिलाड़ियों की दी जाने वाली सुविधाओं को अंतिम रूप दिया।
डा0 सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की कुशल मार्ग दर्शन में इस विश्वविद्यालय का निर्माण की कार्यवाही तीव्र गति से चल रही है। देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा विश्वविद्यालय की आधार शिला रखी गई है। इस विश्वविद्यालय में सभी तरह के ओलम्पिक खेलों जैसे-हॉकी, वॉलीबॉल, ट्रैक एण्ड फील्ड, सूटिंग रेंज, जैवलिन थ्रो, भारोत्तोलन आदि की अत्याधुनिक प्रशिक्षण सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। साथ ही पारम्परिक खेल जैसे-मलखम्भ, खो-खो आदि जैसे खेलों के प्रोत्साहन के लिए भी प्रशिक्षण दिया जाएगा। अत्याधुनिक टर्फ मैदानों के साथ ओलम्पिक साइज स्वीमिंग पूल, साइकिलिंग ट्रैक के साथ ही, विश्वविद्यालय में प्रशासनिक भवन, शैक्षणिक भवन, छात्रों के हॉस्टल एवं प्राध्यापकों व कर्मचारियों के आवास भी निर्मित किए जाएंगे।  इसमें खेलों  के विकास को लेकर हर तरह के प्रशिक्षण की व्यवस्था होगी। यहां वर्ल्ड क्लास कोचेस को ट्रेनिंग देने के साथ ही खिलाड़ियों के प्रशिक्षण और खेल विज्ञान व तकनीक में उच्च स्तरीय शिक्षा लेने वालों के लिए सभी तरह के स्पोर्ट्स कोर्सेज में डिग्री दी जाएगी।
अपर मुख्य सचिव ने बताया विश्वविद्यालय का मुख्य स्टेडियम 25000 दर्शकों की क्षमता वाला होगा। इसमें फुटबॉल, सिंथेटिक हॉकी ट्रैक के साथ आउटडोर गेम्स के लिए भी इंटरनेशनल स्तर के अलग से मैदान बनाए जाएंगे। इसमें एक मल्टीयूज हॉल और ऑडिटोरियम भी होगा, जिसमें 5000 लोग एक साथ बैठ सकेंगे। इसमें बनने वाले सभी मैदानों अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतिस्पर्धाएं कराई जा सकेंगी। स्पोर्टस यूनिवर्सिटी में निशानेबाजी, भारोत्तलन, स्क्वॉश, कैनोइंग, जिमनास्टिक, तीरंदाजी और कयाकिंग जैसी अन्य खेलों की सुविधायें भी रहेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here