सदर सम्पूर्ण समाधान दिवस में 120 शिकायतकर्ता आये, 09 शिकायतों का हुआ मौके पर निस्तारण

0
197

मोहम्मद फिरोज़ प्रतापगढ

शिकायतकर्ताओं की शिकायतों को गम्भीरतापूर्वक सुनकर यथाशीघ्र शिकायत का निस्तारण करायें-प्रभारी जिलाधिकारी

प्रतापगढ़। जन सामान्य की शिकायतों एवं समस्याओं का त्वरित गति के साथ निस्तारण हो सके इस उद्देश्य की पूर्ति के लिये उत्तर प्रदेश सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रम सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन प्रभारी जिलाधिकारी मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया की अध्यक्षता में तहसील सदर में आयोजित किया गया। पुलिस विभाग से सम्बन्धित शिकायतों को पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल द्वारा सुना गया। सम्पूर्ण समाधान दिवस में क्रमबद्ध तरीके से फरियादियों की शिकायतों को सुना गया एवं शिकायतों के निस्तारण हेतु सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया गया। सदर तहसील सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 120 फरियादी अपनी समस्याओं के निस्तारण हेतु उपस्थित हुये जिनमें से 09 शिकायतें इस प्रकृति की पायी गयी जिनका मौके पर निस्तारण कर दिया गया। सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल प्राप्त 120 शिकायतों में से 42 शिकायतें राजस्व विभाग से, पुलिस विभाग से 42, विकास विभाग से 04 चकबन्दी विभाग से 01 विद्युत विभाग से 04 एवं 27 अन्य विभागों से सम्बन्धित शिकायते प्राप्त हुई।
प्रभारी जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि सम्पूर्ण समाधान दिवस जनता की शिकायतों के निस्तारण हेतु आयोजित किया जाता है, इसलिये जिन विभागों की शिकायतें प्राप्त हुई है जनपद स्तरीय अधिकारी उनका स्वयं परीक्षण करते हुये समयान्तर्गत गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करायें जिससे शिकायतकर्ता की समस्या का सन्तोषजनक समाधान हो सके। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित किया कि शिकायतों के निस्तारण में किसी भी स्तर पर शिथिलता या लापरवाही को बहुत ही गम्भीरता के साथ लिया जायेगा, इसलिये सभी अधिकारीगण शासन की मंशा के अनुरूप सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों का निस्तारण गुणवत्तापूर्ण एवं त्वरित गति से किया जाये। उन्होने यह भी अधिकारियांं को निर्देशित किया कि जो भी शिकायतकर्ता अपनी समस्या लेकर आये, उनकी शिकायत को गम्भीरता के साथ सुना जाये तथा यथाशीघ्र उस शिकायत का निस्तारण करें। उन्होने सम्पूर्ण समाधान दिवस में अधिकारियों को निर्देशित किया कि सरकारी भूमि एवं तालाबों पर जो भी अवैध कब्जे किये गये है उनको राजस्व अधिकारी प्राथमिकता के आधार पर मुक्त करायें, इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही एवं शिथिलता कदापि न बरते। उन्होने कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस शासन की प्राथमिकता का कार्यक्रम है इसलिये सभी अधिकारीगण अपने-अपने दायित्वों को समझे और उसका शत् प्रतिशत निर्वहन करें जिससे आमजन मानस की समस्याओं का निराकरण किया जा सके। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी सदर शैलेन्द्र कुमार वर्मा सहित जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here