सरकार गरीब को छेड़ेगी नहीं, माफियाओं को छोड़ेगी नहीं
-केशव प्रसाद मौर्य

0
78

न्यूज ऑफ इंडिया (एजेंसी)
लखनऊः उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने रविवार हमीरपुर के कलेक्ट्रेट स्थित डॉ एपीजे अब्दुल कलाम सभागार में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ जनपद के विकास कार्यों एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक की।
उपमुख्यमंत्री ने कलेक्ट्रेट सभागार में कोविड-19 के कारण दिवंगत हुए लोगों के अनाथ हुए बच्चों/मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लाभार्थियों के साथ संवाद किया । इस मौके पर उन्होंने वहां उपस्थित सभी 30 बच्चों के साथ संवाद कर उनका हालचाल लिया तथा उनकी पढ़ाई लिखाई, भोजन पानी,आवास तथा अन्य जरूरतों के बारे में जानकारी प्राप्त की। किसी के द्वारा किसी प्रकार की समस्या नहीं बताई गई ।
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि इन अनाथ बच्चों को प्रत्येक माह मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का लाभ/किस्त ससमय दिया जाए, इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता न बरती जाए। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा इन बच्चों के साथ नियमित रूप से संवाद स्थापित किया जाए तथा उन्हें किसी भी प्रकार की समस्या पर हर संभव मद्द मुहैया कराई जाए। उन्होंने कहा कि सभी बच्चे मन लगाकर पढ़ाई करें तथा अपने मां-बाप के सपनों को अवश्य पूरा करें। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री ने सभी बच्चों को दीपावली एवं छठ पर्व की बधाई देते हुए उन्हें मिष्ठान्न, स्कूल बैग व ज्येमेट्री बॉक्स तथा अन्य संबंधित किट भेंट की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिया कि बच्चों का समय-समय पर स्वास्थ्य जांच आदि किया जाए।
उपमुख्यमंत्री ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए कहा कि अधिकारी जनप्रतिनिधियों का सम्मान करें। सरकार की मन्शा के अनुरूप कार्य करें। गांव गरीब, किसानों के लिए चलाई जा रही योजनाओं को जन जन तक पहुंचाने का काम किया जाये। उन्होने कहा कि अधिकारी नवाचार करें, कुछ नया और विशेष करके दूसरो के लिए मिशाल बने। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश कि जनपद में अन्ना पशु किसी भी दशा में आवारा घूमते नजर न आये। गत दिवस के गौवंश के वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए उन्होंने प्रकरण में जांच कराकर दोषी के विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई करने के निर्देश दिए । उन्होने कहा कि अन्ना गौवंश किसी भी दशा में सड़कों पर ना दिखे। अन्ना गौवंशो को प्रत्येक दशा में गौशालाओं में अच्छे ढंग से संरक्षित किया जाए तथा उन्हें चारा पानी भूसा आदि की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए, इसमें किसी भी तरह की लापरवाही न बरती जाए। लम्पी स्किन डिजीज संक्रमण वाले पशुओं को अलग गौशाला में रखे। उन्होने निर्देशित किया कि चारागाह की जमीन पर नैपियर घास लगाने के कार्यों में तेजी लाई जाए, गौ आश्रय स्थलों का सही संचालन कराया जाये। कहा कि समय-समय पर गौ आश्रय स्थलों का औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया जाय।
जनपद में विद्युत विभाग के नवाचारी कार्य विद्युत सखियों द्वारा विद्युत बिल जनरेशन के साथ-साथ विद्युत बिल कलेक्शन के द्वारा विद्युत सखियों की आमदनी बढ़ाने के कार्य करने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए इसे और अच्छे ढंग से आगे बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कुसुम योजना के अंतर्गत अधिक से अधिक लाभार्थियों का चयन किया जाए,। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रत्येक ब्लॉक मे शत प्रतिशत सौर ऊर्जा से संचालित करने के लिए 01-01 गांव/कुल 7 गांव विकसित किया जाए, इनको विद्युत ग्रिड से भी जोड़ने के कार्य किए जाएं।
उन्होने कहा कि जनपद में अधूरे निर्माण कार्य को शीघ्र पूर्ण किया जांये। उन्होने निर्देशित किया कि लोक निर्माण विभाग सड़कों को चौड़ीकरण, सौन्दरीकरण व गड्ड़ामुक्त कर जनप्रतिनिधियों को अवगत कराये। आयुष्मान भारत के तहत लक्ष्य के अनुरूप शत प्रतिशत गोल्डेन कार्ड बनाया जाना सुनिश्चित किया जाए। जल जीवन मिशन में पाइप लाइन 01 मीटर से नीचे ही रहना चाहिए। पाइप लाइन डालने में जो सड़कें खोदी जाती है, उन सड़कों की मरम्मत समय से कराया जाए। जल जीवन मिशन अत्यंत महत्वाकांक्षी योजना है, इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होना चाहिए। उन्होने कहा कि माफियाओं के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाए । पी एम स्वनिधि योजना गरीब कल्याण के लिए चलाई जा रही है, आवेदकों को समय से लोन दिया जाय। आवासीय योजनाओं में विद्युत, गैस, मनरेगा में 90 दिन काम, शौचालय, श्रम विभाग का कार्ड आदि सभी अनुमन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाय, इसका सत्यापन किया जाए। अमृत योजना व जल जीवन मिशन के कार्यों में किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। उन्होने निर्देश दिए कि स्कूली बच्चों के यूनीफार्म के लिए अभिभावकों के खाते में भेजी गयी धनराशि का सही उपभोग किया जाए यह सुनिश्चित हो। उन्होने कहा कि बाढ़ अतिवृष्टि के कारण खराब हुई फसलों के संबंधित किसानों को फसल बीमा योजना का लाभ / क्लेम शीघ्रता से दिलाया जाए । उन्होने कृषि अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद में किसानों के लिये खाद की उपलब्धता सुनिश्चित रहे, जिन स्थानों पर खाद की समस्या हो वहां 48 घंटे के अंदर खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए । अमृत सरोवरो के पास पड़ी जमीन की पैमाइश कराकर ग्राम समाज की पड़ी जमीन की बैरिकेटिंग कराते हुये वहां पर वृक्षारोपण कराया जाए।
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कृषि विभाग द्वारा बैंकों से कोऑर्डिनेशन करके अभियान चलाकर किसानों के केसीसी कार्ड बनवाया जाए । कहा कि जनपद में अभियान चलाकर ओवरलोड/अवैध वाहनों पर प्रवर्तनीय कार्रवाई की जाए । बारिश या अन्य कारणों से क्षतिग्रस्त हुई सड़कों को अभियान चलाकर गड्ढा मुक्त किया जाए। उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल में मैन पावर की व्यवस्था हेतु प्रस्ताव दिए जाए, सीएचसी/ पीएचसी स्तर पर डॉक्टर नियमित रूप से बैठकर मरीजो का इलाज करें तथा वहां सभी दवाओं की उपलब्धता हो यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित की जाए ।मेडिकल एटीएम के माध्यम से अस्पताल आने वाले लोगों की स्वास्थ्य जांच की जाए। उन्होंने कहा कि जनपद में मेडिकल कॉलेज हेतु जमीन चिन्हित करने के उपरांत प्रस्ताव भेजा जाए। मेडिकल कॉलेज का प्रस्ताव प्राथमिकता से स्वीकृत किया जाएगा। खनन क्षेत्र की सड़कों को उच्च गुणवत्ता युक्त बनाई जाए ।कहा कि कृषकों की सिंचाई हेतु विद्युत विभाग द्वारा अस्थाई कनेक्शन देने का कार्य किया जाए, यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि गत दिनों यमुना एवं बेतवा नदियों में आई बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुई सड़कों को दुरुस्त किया जाय तथा पैचिंग का कार्य प्रत्येक दशा में अगली वर्षा से पूर्व पूर्ण कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि कुरारा छानी मार्ग पर पुल निर्माण कार्य में तेजी लाई जाए। हर घर नल योजना के माध्यम से घरों में दिए जा रहे पाइप लाइन कनेक्शन को समयबद्ध ढंग से पूर्ण किया जाए। दिसंबर तक प्रत्येक दशा में हर घर नल से जल पहुंचना चाहिए ,इसके दृष्टिगत हर संभव प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा कि ग्राम लेवल पर ग्राम पंचायत अधिकारी/ ग्राम सचिव आदि किसी भी दशा में भ्रष्टाचार न कर पाए ,इसके लिए डीपीआरओ व सीडीओ द्वारा निरीक्षण आदि किए जाए। कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण व शहरी, पेंशन प्रकरणों ,राशन, उज्जवला योजना के अंतर्गत गैस सिलेंडर आदि के विभिन्न प्रकरणों के निस्तारण के लिए सभी नगरीय निकायों में कैंप लगाया जाए तथा इनसे संबंधित शिकायतों का निराकरण किया जाए। उन्होंने कहा कि मृतक आश्रितों से संबंधित किसी भी प्रकार के कार्य लंबित नहीं रहने चाहिए , ऐसे कार्यों में सहानुभूति के साथ नियमानुसार कार्य किए जाएं तथा ऐसे प्रकरणों को 15 दिनों के अंदर अनिवार्य रूप से निस्तारण कर दिया जाए।
इस मौके पर मा राज्यसभा सांसद बाबूराम निषाद, विधायक हमीरपुर डॉ मनोज कुमार प्रजापति, मा विधायक राठ मनीषा अनुरागी, अध्यक्ष जिला पंचायत जयंती राजपूत, एमएलसी जितेंद्र सिंह सिंगर ,अध्यक्ष नगर पालिका परिषद हमीरपुर कुलदीप निषाद, जिलाधकारी डॉ चंद्र भूषण, पुलिस अधीक्षक शुभम पटेल, मुख्य विकास अधिकारी मथुरा प्रसाद मिश्रा ,अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रमेश चंद्र ,अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे राजेश कुमार यादव ,अपर जिलाधिकारी न्यायिक डॉ नागेंद्र नाथ यादव तथा सहित अन्य विभागों के जनपद स्तरीय अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here