स्वतंत्रता दिवस से पहले बड़ी साजिश नाकाम, यूपी ATS ने आजमगढ़ से पकड़ा ISIS आतंकी, बड़े धमाके का था प्लान

0
112

आजमगढ़।देश में जहां एक तरफ स्वतंत्रता दिवस की खुशी में सब उत्साहित होकर आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे है, तो वहीं दूसरी ओर आतंकवादियों की 15 अगस्त पर धमाका करने की साजिशे चल रही है।स्वतंत्रता दिवस से पहले बड़े धमाके की साज़िश रचने वाले ISIS आतंकी संगठन से जुड़े आतंकी सबाउद्दीन आजमी को मंगलवार को उत्तर प्रदेश आतंकवाद निरोधक दस्ता यूपी एटीएस ने आजमगढ़ से गिरफ्तार किया है।वह ISIS में भर्ती कराने वाले सदस्यों से सीधे संपर्क में था।

सबाउद्दीन ने आरएसएस के सदस्यों को टारगेट के लिए ईमेल आईडी बनाया और फिर फेसबुक अकाउंट खोला और इन नेताओं को टारगेट करने की योजना पर काम करने लगा। गिरफ्तार आतंकी के पास से भारी मात्रा में 315 के कारतूस समेत शोल्डिंग और पीवीसी वायरिंग समेत तमाम आपत्तिनजक सामग्री भी बरामद किया है।संभावना है इन सामग्रियों का इस्तेमाल बम बनाने में किया जाता है।गिरफ्तार आतंकी ने पुलिस को बताया कि उसके साथ कुछ लोग स्वतंत्रा दिवस के मौके पर विस्फोट करने का प्लान बना रहे थे।

यूपी एटीएस के प्रवक्ता ने बताया कि स्वतंत्रा दिवस को देखते हुए पुलिस महानिदेशक डॉ. देेवेन्द्र सिंह चौहान के निर्देश पर यूपी एटीएस को अवांक्षनीय तत्वों पर नजर रखने को कहा गया था। इसी कड़ी में एटीएस की टीम को सहयोगी एजेंसी के माध्यम से पता चला कि आजमगढ़ के अमिलो मुबारकपुर में एक व्यक्ति अपने साथियों के जरिए ISIS से प्रभावित होकर वाट्सएप समेत अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से स्थानीय युवकों में जिहादी विचारधारा का प्रचार-प्रसार कर रहा है। साथ ही युवकों को ISIS से जुड़ने के लिए प्रेरित कर रहा है।

एटीएस की टीम सबाउद्दीन को गिरफ्तार करने के बाद लखनऊ स्थित एटीएस मुख्यालय ले आई है।मुख्यालय पर सबाउद्दीन से पूछताछ और मोबाइल का डेटा खंगालने पर एटीएस टीम को कई चौकाने वाले तथ्य हाथ लगे हैं।एटीएस की टीम आतंकी से लगातार पूछताछ कर रही है।सबाउद्दीन के सबाहुद्दीन, सबाहु, दिलावर खान, बैरम खान और आजर जैसे कई नाम हैं।सबाउद्दीन आजमगढ़ जिले के ही मेहमूदापुरा अमिलो मुबारकपुर का रहने वाला है। सबाउद्दीन ISIS के अलावा ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम का भी सक्रिय सदस्य है।

एटीएस के प्रवक्ता ने बताया कि पुछताछ में पुलिस को पता चला है कि सबाउद्दीन आतंक और जेहाद के लिए मुस्लिम युवकों का ब्रेनवाश करने के लिए ISIS द्वारा तैयार किए गए टेलीग्राम चैनल अल-स्क्वायर मीडिया से जुड़ा हुआ है और ओवैसी की राजनीतिक पार्टी आईएमआईएम का भी सक्रिय सदस्य है।उन्होंने बताया कि पुलिस पूछताछ में सबाउद्दीन ने बताया कि वह फेसबुक के माध्यम से बिलाल नाम के एक व्यक्ति से जुड़ा था।बिलाल उससे काश्मीर में मुजाहिदों पर हो रही कार्यवाही के बारे में बात करता था। इसी कड़ी में बिलाल ने उसे ISIS के सदस्य मूसा उर्फ खत्ताब कश्मीरी का फोन नंबर दिया था और उससे लगातार बात होने लगी थी।

पुलिस को सबाउद्दीन ने बताया कि मूसा ने भी उसे आतंकी संगठन ISIS के सदस्य अबू बकर अल-शामी का नंबर दिया, जो सिरिया में रहकर इस संगठन का काम कर रहा है। इसके बाद बकर उससे लगातार कश्मीर में मुजाहिदों पर हो जुल्म के बारे में बात करता था। बकर से संपर्क में आने के बाद सबाउद्दीन भी उससे मुजाहिदों पर हो रही कार्यवाही का बदला लेने और ISIS की तरह भारत में भी एक इस्लामिक संगठन बनाने एवं आईईडी बनाने केबारे में जानकारी हासिल किया। अबू बकर ने सबाउद्दीन को आईईडी बनाने का विधि और जरूरी सामग्री के बारे में भी जानकारी देता था। साथ ही बकर ने उसे मुर्तानिया के रहने वाले ISIS में भर्ती कराने वाले अबू उमर से भी मिलवाया।

अबू उमर सोशल मीडिया के जरिए सबाउद्दीन को हैंड ग्रेनेड, बम, आईईडी बनाने की ट्रेनिंग देने लगा। वहीं, सबाउद्दीन को भारत में मुजाहिदिन संगठन तैयार इस्लामिक स्टेट स्थापित करने और भारत में इस्लामी हुकुमत और शरिया कानून लागू कराने की योजना पर लगा दिया था।ISIS से सक्रिय रूप से जुड़ने के बाद सबाउद्दीन ने आरएसएस के नाम से एक मेल आईडी बना ली और उससे फेसबुक का नया अकाउंट बनाकर आरएसएस के सदस्यों को टारगेट करने की योजना पर काम कर रहा था। एटीएस ने लखनऊ में एटीएस थाने में सबाउद्दीन के मुकदमा दर्ज कर लिया है।

जानकारी के लिए बता दें कि अबू बकर अल बगदादी द्वारा स्थापित ISIS संगठन सीरिया और इराक में काफी सक्रिय है। इस संगठन का एकमात्र मकसद एशिया तक पहुंचकर पूरे विश्व का इस्लामीकरण करना है। देश में ISIS के कुछ आतंकवादी लोगों का ब्रेन वोश कर अपने संगठन से जोड़ते है, औऱ बाद में हथियार चलाने की ट्रेनिंग दी जाती है।बीते दिनों बिहार से दो इस्लामिक संगठन के आतंकवादियों ने बताया था कि उनका एकमात्र उद्देश्य है इस देश को इस्लामिक राष्ट्र बनाना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here